21 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से 16 जून को बात करेंगे पीएम मोदी, कोरोना महामारी पर हो सकती है चर्चा

मंगलवार (16 जून, 2020) को जिन 21 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों एवं उप-राज्यपालों के साथ प्रधानमंत्री संवाद करेंगे, कोरोना महामारी से उबरने हो सकती है विशेष बातचीत

21 राज्यों के  मुख्यमंत्रियों से  16 जून को बात करेंगे पीएम मोदी,  कोरोना महामारी पर हो सकती है चर्चा

पीएम मोदी मोदी 16 जून को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत 21 राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों के मुखिया के साथ बात करेंगे कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के साथ प्रधानमंत्री की यह मीटिंग मुख्यमंत्री एवं केंद्रशासित प्रदेशों के उपराज्यपालों के साथ संवाद को काफी महत्वपूर्ण माना  जा रहा  है, 

मंगलवार (16 जून, 2020) को जिन 21 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों एवं उप-राज्यपालों के साथ प्रधानमंत्री संवाद करेंगे, उनमें झारखंड, पंजाब, असम, केरल, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा, हिमाचल, चंडीगढ़, गोवा, मणिपुर, नगालैंड, लद्दाख, पुड्डुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम, अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह, दादर नगर हवेली एवं दमन दीव, सिक्किम और लक्षद्वीप शामिल हैं.

इसके बाद 17 जून को प्रधानमंत्री बाकी के 15 राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उप राज्यपालों से बात करेंगे. दूसरे दिन की बैठक में बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, हरियाणा, तेलंगाना और ओड़िशा के मुख्यमंत्री एवं जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल शामिल होंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति की वरिष्ठ मंत्रियों और शीर्ष नौकरशाहों के साथ समीक्षा की. प्रधानमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार, पीएम मोदी ने दिल्ली सहित विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में महामारी की स्थिति का जायजा लिया.

बैठक के दौरान यह बात सामने आयी कि भारत में कोविड-19 संक्रमण के दो तिहाई मामले पांच राज्यों में हैं और इसमें बड़ी संख्या बड़े शहरों में है. गौरतलब है कि देश में महज 10 दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दो लाख से बढ़कर तीन लाख से ज्यादा हो गये हैं.

 साथ ही कोरोना के संक्रमण और उससे होने वाली मौत की बढ़ती रफ्तार ने सरकार को चिंता में डाल दिया है. मुख्यमंत्रियों एवं उप-राज्यपालों के साथ बैठक में इससे निबटने की रणनीति पर चर्चा के कयास लगाये जा रहे है.