अखिल भारतीय जनजातीय सुरक्षा मंच के राष्ट्रीय संयोजक बने गणेश राम भगत,जशपुर में हुई पहली बैठक

अखिल भारतीय जनजातीय सुरक्षा मंच के राष्ट्रीय संयोजक बने गणेश राम भगत,जशपुर में हुई पहली बैठक

अखिल भारतीय जनाजतीय सुरक्षा मंच के राष्ट्रीय संयोजक बनने के बाद राष्ट्रीय कार्यालय बाकी टोली जशपुर में आयोजित हुई पहली बैठक जिसमें सरगुजा रायगढ़ जशपुर के प्रमुख कार्यकताओं ने राष्ट्रीय संयोजक गणेश राम भगत का स्वागत किया । स्वागत समारोह को सम्बोधित करते हुए जिला संयोजक नयू राम भगत ने गणेश राम भगत जी को राष्ट्रीय संयोजक का दायित्व मिलने पर उन्हें समाज की और से बधाई दी और खुशी जताते हुए कहा कि अब हमारा सीना चौड़ा हो गया है ।लेकिन इसके साथ ही हमारी जिम्मेदारी भी बढ़ गई है क्योंकि अब माननीय गणेश राम भगत जी को पूरे देश के लिए काम करना होगा जिससे उनका समय हमें कम मिल सकेगा लेकिन फिर भी हमें पूर्व की तरह जैसे पिछले पंद्रह वर्षो से हम जनजातिय समाज सहित हिन्दू धर्म के लिए जिस प्रकार निःस्वार्थ सेवा करते आ रहे है उसी तरह आगे भी हमें गणेश राम जी का हाँथ मजबूत रखना होगा ।बैठक को सम्बोधित करते हुए मंच के संरक्षक एवम विधि सलाहकार अधिवक्ता रामप्रकाश पाण्डेय ने कहा कि पिछले पंद्रह वर्षो से अथक परिश्रम करते हुए मंच के सभी कार्यकर्ताओं ने समाज के महत्वपूर्ण विषयों को लेकर जिस प्रकार से आंदोलन किया और जीत हासिल की उसी का परिणाम है कि आज जशपुर पुनः देश के केंद्र में शामिल हुआ है और श्री गणेश राम भगत जी को राष्ट्रीय संयोजक का दायित्व सौंपा गया है । इसके लिए सभी कार्यकर्ता बधाई के पात्र हैं।उन्होंने कई उदाहरण देते हुए बताया कि सच्चाई की हमेशा जीत होती है और आज अखिल भारतीय जनजातिय सुरक्षा मंच किसी पहचान का मोहताज नही है ।मंच से न केवल जशपुर बल्कि देश के लोग भी परिचित हुए हैं अब मंच की प्रमुख मांग धर्मांतरित लोगों की जनजातिय सूची से बाहर करने पर जोर लगाने की आवश्यकता है और इस हेतु जल्द ही राष्ट्रीय संयोजक मुद्दे को लेकर दिल्ली कूच करेंगे और भारत सरकार से इस मुद्दे पर चर्चा कर इस सम्बंध में स्पष्ट कानून बनाने की मांग करेंगे ।बैठक को सम्बोधित करते हुए श्री गणेश राम भगत ने कहा की यह दायित्व सिर्फ मुझे नही मिला है बल्कि आप सभी कार्यकर्ताओं की एकजुटता को दिया गया है ,इसी तरह आप सभी निःस्वार्थ एकजुट होकर मंच के प्रमुख विषयो पर आंदोलन करते रहे उम्मीद है कि जल्द ही मंच की प्रमुख मांग भी पूरी होगी ।उन्होंने कहा कि 15 जुलाई को स्वर्गीय जगदेव राम उरांव जी की प्रथम पुण्य तिथि है और इस विषय पर अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम जशपुर में उनके स्मरण में कार्यक्रम आयोजित है जिसमें देश भर के प्रमुख कार्यकर्ता शामिल होंगे और उसी दिन मंच के राष्ट्रीय कार्यालय में जनजातिय सुरक्षा मंच की अखिल भारतीय बैठक भी दोपहर 2.30 बजे से आयोजित है ।जिसमें क्षेत्र के भी प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहेंगे ।और उसी दिन देश के अन्य राज्यो की समस्याओं पर विचार मंथन किया जाएगा तथा देश भर के प्रवास की आगामी नीति तय की जाएगी ।कार्यक्रम को जिला उपाध्यक्ष चन्द्रदेव ग्वाला, महिला अध्यक्ष करु

णा भगत, पलटू राम, सरगुजा संयोजक नाथू राम ,श्री राम भगत आदि ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन जिला सचिव लालदेव भगत ने किया ।