मध्यप्रदेश में अब प्राइवेट स्कूल मनमानी फीस नहीं ले सकते

प्राइवेट स्कूलों की फीस को लेकर हाईकोर्ट ने सरकार से जानकारी मांगी

मध्यप्रदेश में अब प्राइवेट स्कूल मनमानी फीस नहीं ले सकते

मध्यप्रदेश में अब प्राइवेट स्कूल मनमानी फीस नहीं ले सकते इसका अंतिम निर्णय हाईकोर्ट के निर्देश का इंतजार है जी हां  मध्यप्रदेश में प्राइवेट स्कूलों की फीस को लेकर हाईकोर्ट ने सरकार से जानकारी मांगी है हाई कोर्ट की जबलपुर खंडपीठ में सुनवाई हुई उच्चतम न्यायालय द्वारा निजी स्कूल एसोसिएशन द्वारा लगाई गई याचिका को निरस्त कर दी है |

मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के नवंबर 2020 के आदेशों को ही सही माना है और उसके उचित पालन के लिए सभी निजी स्कूलों द्वारा ली जा रही फिस को  सार्वजनिक करने का आदेश दिया है साथ ही हाईकोर्ट ने शासन को निर्देश दिया है की फीस रेगुलेटरी एक्ट को लागू करने के संदर्भ में एक हफ्ते में कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत करें याचिका की अगली सुनवाई होने तक न्यायालय द्वारा पूर्व में दिया गया निर्णय ही मान्य होगा जिसके अनुसार निजी स्कूल केवल शिक्षण शुल्क ही ले सकेंगे और फिस में किसी तरह की वृद्धि नहीं कर सकेंगे और ना ही फीस के अभाव में बच्चों को पढ़ाई , परीक्षा या किसी अन्य सुविधा से वंचित करेंगे ।