शशिकला के खिलाफ FIR, पूर्व AIADMK मंत्री को धमकाने का आरोप

विल्लुपुरम जिले के रोशनाई पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज

शशिकला के खिलाफ FIR, पूर्व AIADMK मंत्री को धमकाने का आरोप

पूर्व AIADMK नेता शशिकला और उनके समर्थकों के खिलाफ तमिलनाडु के विल्लुपुरम जिले के रोशनाई पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है | ये एफआईआर पूर्व AIADMK मंत्री सीवी शानमुगम की शिकायत पर दर्ज की गई है. शनमुगम ने आरोप लगाया है कि उन्हें सोशल मीडिया और मोबाइल फोन के जरिये धमकी मिली.

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, AIADMK विल्लुपुरम उत्तर जिला सचिव, शानमुगम ने 9 जून को शिकायत दर्ज कराई थी, नेता ने कहा कि 7 जून को उन्होंने शशिकला के खिलाफ बयान दिया और कहा था कि उन्हें कभी भी पार्टी में वापस नहीं आने दिया जाएगा. शनमुगम ने आरोप लगाया कि शशिकला ने "कोई सीधी प्रतिक्रिया नहीं दी", उन्होंने "अपने गुंडों को मौत की धमकी देने के लिए उकसाया". उन्होंने दावा किया कि उनके मोबाइल पर 500 से ज्यादा कॉल आए और दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से भी धमकियां मिलीं.

कुछ समय पहले शशिकला और पार्टी के कुछ सदस्यों के बीच कथित बातचीत का ऑडियो सामने आया था. इसमें शशिकला को कथित तौर पर ये कहते हुए सुना गया था कि वो "पार्टी को ठीक करने" के लिए राजनीति में लौटेंगी, जो वर्तमान नेतृत्व के कारण "गंभीर तनाव में है." शशिकला खेमे ने कहा था कि टेप सही हैं और दावा किया कि बातचीत "और कुछ भी नहीं, बल्कि उन लोगों के लिए उनकी कॉल थी जिन्हें नियुक्ति दी गई थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण आने में असमर्थ थे." AIADMK नेताओं ने इन टेप्स को 'राजनीतिक ड्रामा' करार दिया है.