सीधी में संजय टाइगर रिजर्व में दो शावकों का जन्म, जिले वासियों में उत्साह

शावकों से गुलजार हुआ कुसमी का संजय गांधी टाइगर रिजर्व फॉरेस्ट

सीधी में संजय टाइगर रिजर्व में दो शावकों का जन्म, जिले वासियों में उत्साह

लंबे अरसे के बाद आज संजय गांधी टाइगर रिजर्व में खुशी का माहौल दिखाई दे रहा है आपको बता दे सीधी में टाइगर की संख्या कम होती जा रही थी ऐसे में दूसरे टाइगर रिजर्व  से टाइगर लाए जाते थे इस कमी को पूरा करने के लिए से दो टाइगर जिसमें एक नर बाघ व एक मादा है यहाँ लाए गए थे। बताया जा रहा है कि अब यहां बाघों की संख्या बढ़ने के आसार दिखाई देने लगे हैं  टाइगर रिजर्व के कैमरे में ऐसा ही एक पल आया है जहां पर रात्रि के समय एक बाघिन आपने दो नन्हे शावकों के साथ साथ कैमरे में कैद हो गई संजय टाइगर रिजर्व सीधी से नन्‍हें मेहमान के आगमन की खबर आई है तब से ही खुशी का माहौल चारों तरफ दिखाई दे रहा था  बाघिन टी-3 एक माह के शावक के साथ कैमरा में कैद हुई है इसकी तस्वीरें बाहर आने के बाद रिजर्व प्रबंधन मान रहा है कि शावकों की संख्या दो से अधिक हो सकती है।लिहाजा सुरक्षा के लिए निगरानी बढ़ा दी गई है। बाघ की पिछली गणना में संजय टाइगर रिजर्व में 8 बाघों की पुष्टि हुई थी प्रबंधन का दावा है की डेढ़ से दो दर्जन संख्या होने का है छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे होने से इनका विचरण होता रहता है अब नए सिरे से गणना से पहले टी-3 के मां बनने का मामला सामने आया है।कुसमी के संजय गांधी टाइगर रिजर्व के संचालक वाईपी सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया है कि यहां पर संख्या अब लगातार बढ़ेगी और बाहर से जो पर्यटक आएंगे उन्हें टाइगर बड़े ही आसानी से देखने को मिल सकेंगे लगातार यहां टाइगर की संख्या बढ़ती हुई नजर आ रही है |